हार्ट बर्न |डिनर के बाद सीने में जलन-खट्टे डकार क्यों आते है

हार्ट बर्न

एसिड रिफ्लक्स पाचन में गड़बड़ी से संबंधित स्थिति है, जिसमें पेट का एसिड पेट से वापस अन्नप्रणाली में जाता है। यह सीने में जलन का कारण बनता है, जिसे हार्ट बर्न कहते हैं।

इसमें दूसरे लक्षण जैसे खट्टी डकार, निगलने में कठिनाई, खांसी, घबराहट और सीने में दर्द भी शामिल है। ऐसे में सोने या झुकने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

हालांकि एसिडिटी की यह समस्या आम है। लेकिन यदि यह आप आए दिन होती रहती है, तो यह अन्नप्रणाली में डैमेज के साथ इसके कैंसर के जोखिम को बढ़ाती है। ऐसे में जरूरी है इसके लक्षणों को समय रहते ठीक

करने के उपाय किए जाए। साथ ही इससे बचाव के लिए लाइफस्टाइल में जरूरी और सेहतमंद बदलाव किए जाएं।

हार्ट बर्न के लक्षण

● सीने मे जलन

• झुकते या लेटते समय सीने में दर्द

● गले में जलन

• खट्टी डकार

• निगलने में कठिनाई

क्यों होता है हार्ट बर्न

रिपोर्ट के अनुसार, बहुत लोगों के समय-समय पर हार्ट बर्न की समस्य होती रहती है। इसका कोई स्पष्ट कारण अक्सर नहीं होता है।

लेकिन जो कारण हार्ट बर्न की संभावना को बढ़ाते हैं, उसमें कॉफी, टमाटर, शराब, चॉकलेट- और वसायुक्त या मसालेदार भोजन का अत्यधिक सेवन, मोटापा, धूम्रपान, गर्भावस्था, तनाव और चिंता, हार्मोन में वृद्धि, हर्निया शामिल है।

इस पोजीशन में सोने से मिलती है राहत

बाई ओर सोने या लेटने से हार्ट बर्न सहित जीईआरडी के लक्षणों से राहत मिल सकता है। यह न केवल रिफ्लक्स को कम करता है, बल्कि यह पेट के एसिड से अन्नप्रणाली के संपर्क को भी कम करता है। इसके विपरीत, सोने या पीठ के बल लेटने से हार्ट बर्न बिगड़ सकता है।

‘हार्ट बर्न में ये फूड खाना है फायदेमंद

हार्ट बर्न और एसिड रिफ्लक्स के लक्षणों को करने के लिए साबुत अनाज जैसे जई ब्राऊन राइस, रूट वैजी जैसे शकरकंद, गाजर, चुकंदर और हरी सब्जियां जैसे ब्रोकोली, केल, पालक और बीन्स बहुत फायदेमंद होता है। इसके साथ ही प्याज, खट्टे फल, उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थ, टमाटर, ■ शराब, साइट्स जूस जैसे खाद्य पदार्थों से दूर रहना चाहिए।

लाइफस्टाइल में बदलाव है जरूरी

हार्ट बर्न से बचने का सबसे अच्छा तरीका है, संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लेना। हमेशा ध्यान रखें कि सोने से पहले ज्यादा खाना न खाएं। खाने के बाद कुछ कदम चलें। अपने भोजन को ठीक से चबाएं ताकि इसे पचाना आसान हो। इसके अलावा, स्वस्थ वजन बनाए रखें और नियमति रूप से व्यायाम करें। यदि आप धूम्रपान करने वाले हैं, तो तुरंत छोड़ दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *