फॉरेंसिक साइंस मे करियर

फॉरेंसिक साइंस मे करियर

फॉरेंसिक

फॉरेंसिक फॉरेंसिक साइंस की फील्ड में काम करने वाले प्रोफैशनल फॉरैंसिक साइंस साइंटिस्ट या फॉरेंसिक साइंस एक्सपर्ट्स कहलाते हैं। फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट्स टैक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके क्राइम स्पॉट पर मौजूद सबूतों की जांच करते हैं और अपराधियों को पकड़ने में मदद करते हैं। इसके लिए वे क्राइम सीन, ब्लड सैंपल, डीएनए प्रॉफाइलिंग आदि की जांच करते हैं। फॉरेंसिक साइंस का इस्तेमाल आपराधिक मामलों की जांच और कानूनी प्रक्रियाओं के लिए किया जाता है। फॉरेंसिक साइंस में कैमिस्ट्री, बायोलॉजी, फिजिक्स, जियोलॉजी, साइकोलॉजी, सोशल साइंस, इंजीनियरिंग आदि फील्ड्स शामिल होती हैं। इस फील्ड में काम करने वाले प्रॉफैशनल फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट या फॉरैंसिक साइंस एक्सपर्ट्स कहलाते हैं। फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट्स टैक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके क्राइम स्पॉट पर मौजूद सबूतों की जांच करते हैं और अपराधियों को पकड़ने में मदद करते हैं। इसके लिए वे क्राइम सीन, ब्लड सैंपल, डीएनए प्रॉफाइलिंग आदि की जांच करते हैं।

कोर्स

फॉरेंसिक साइंस में करियर बनाने के लिए 12वीं में साइंस होनी जरूरी है। आप फोरेंसिक साइंस एंड क्रिमनोलॉजी या फॉरेंसिक साइंस एंड लॉ में एक वर्षीय डिप्लोमा कर सकते हैं। आप फॉरैंसिक साइंस 3 साल की बीएससी, 2 साल की एमएससी भी कर सकते हैं। इस फील्ड में स्पैशलाइजेशन और रिसर्च करने के इच्छुक हों तो फॉरैंसिक साइंस में पीएचडी और एमफिल भी कर सकते हैं।

इस फील्ड में काम करने वाले प्रॉफेशनल फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट या फॉरेंसिक साइंस एक्सपर्ट्स कहलाते हैं। फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट्स टैक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके क्राइम स्पॉट पर मौजूद सबूतों की जांच करते हैं और अपराधियों को पकड़ने में मदद करते हैं।

जरूरी स्किल्स

एक फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट को जिज्ञासु होना चाहिए और साहसिक कार्यों में दिलचस्पी होनी चाहिए। इस फील्ड में हर कदम पर चुनौती है इसलिए आपको दिमागी तौर पर मजबूत होना जरूर है। इसके साथ आपके अंदर मजबूत ही आपके कम्युनिकेशन स्किल्स होना भी बेहद जरूरी है। एक फॉरैंसिक साइंस साइंटिस्ट को कई तरह की टैस्ट रिपोर्ट लिखनी होती हैं इसलिए आपकी राइटिंग स्किल्स भी अच्छी होनी चाहिए। फॉरेंसिक साइंस साइंटिस्ट को सबूतों की जांच करनी होती है इसलिए आपको एकाग्रता और सतर्कता के साथ काम करना आना चाहिए।

जानें कहां मिलेगी नौकरी

इस फील्ड में सरकारी और प्राइवेट जॉब्स की भरमार है। फॉरेंसिक साइंस में डिग्री हासिल करने के बाद आपको पुलिस, लीगल सिस्टम, इंवेस्टिगेटिव सर्विस जैसी जगहों पर जॉब मिल सकती है। वहीं, कोई प्राइवेट एजेंसी भी आपको बतौर फॉरैंसिक साइंटिस्ट्स जॉब ऑफर कर सकती । अगर आप में योग्यता है तो आपको फॉरेंसिक साइंटिस्ट इंटेलिजेंस ब्यूरोटिस्ट और सी.बी.आई. में भी नौकरी का और अवसर प्राप्त हो सकता है। इसके होनी अलावा आप किसी फॉरेंसिक साइंस पर शिक्षण संस्थान में टीचर के रूप पढ़ा तौर कर अच्छी सैलरी कमा सकते हैं।

सैलरी

योग्यता के आधार पर आपको शुरुआत में 20-50 हजार रुपये प्रतिमाह तक सैलरी मिल सकती है। समय के साथ अनुभव होने पर आप 6 से 8 लाख रुपये तक महीना कमा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *