sensitive skin – स्किन सैंसिटिविटी के कारण

sensitive skin

हर महिला चाहती है कि उसकी स्किन ग्लोइंग, अट्रैक्टिव होने के साथ-साथ हर तरह की प्रॉब्लम से भी फ्री हो । लेकिन लाख सोचने के बावजूद जरूरी नहीं कि हर महिला की स्किन ठीक हो ही, क्योंकि स्किन एक प्रौटेक्टिव लेयर से बनी होती है।

लेकिन मौसम में आए बदलाव, कैमिकल वाले स्किन केयर प्रॉडक्ट्स, धूलमिट्टी व गंदगी के ज्यादा संपर्क में जब हम रहते हैं तो ये हमारी स्किन की सैंसिटिविटी का कारण बनते हैं, जिससे हमें ढेरों स्किन प्रॉब्लम्स का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में जरूरी है सही स्किनकेयर करने के साथ-साथ सही स्किन केयर प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल करना ताकि हमारी स्किन हमेशा चमकती-दमकती रहे। तो आइए, जानते हैं कैसे करे skin की care

reasons for sensitive skin

स्किन सैंसिटिविटी के कारण – हार्मफुल इनग्रीडिएंट्स

लंबे समय तक ऐसे स्किन केयर प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल करने, जिनमें मिनरल ऑयल्स, सिलिकोंस व स्किन को नुकसान पहुंचाने वाले इनग्रीडिएंट्स होते हैं, का इस्तेमाल करने से पोर्स बंद होने के साथ-साथ स्किन पर एक्ने, जलन जैसी समस्या उत्पन्न होने लगती है, जिसके समाधान के लिए इस बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी है कि आप स्किनकेयर प्रॉडक्ट्स में इनग्रीडिएंट्स को देखकर ही प्रॉडक्ट को खरीदें। कोशिश करें नैचुरल इनग्रीडिएंट्स से बने प्रॉडक्ट्स व माइल्ड प्रॉडक्ट्स का ही इस्तेमाल करें। साथ ही रात को सोते समय मेकअप को रिमूव करना न भूलें।

पॉल्यूशन :

चाहे हम घर में रहें या फिर बाहर निकलें, हम अपने चारों ओर पॉल्यूशन से घिरे होते हैं। इस के कारण न सिर्फ हमें अपनी स्किन गंदी लगती है, से बल्कि प्रदूषण के कणों से जुड़े कुछ कैमिकल्स त्वचा की परतों में प्रवेश कर जाते हैं, जो ऑक्सिडेशन स्ट्रेस का कारण बनने के कारण हमारी स्किन बैरियर को कमजोर बनाने के साथ-साथ सूजन, एजिंग का भी कारण बनते हैं, जिससे सैंसीबायो क्लींजर आपको फुल प्रौटेक्शन देने का काम करता है।

गंदगी: आपकी स्किन कैमिकल्स व रोगजनकों के खिलाफ एक नैचुरल बैरियर का काम करती है। ऐसे में अगर आप स्किन

के हाइजीन यानी उसे प्रौपर रोजाना क्लीन करते हैं, तो वह त्वचा की सतह से डेड स्किन सैल्स, गंदगी व रोगाणुओं को हटाने में सक्षम बन जाती है।

टैप वाटरः टैप वाटर बैक्टीरिया, कैल्शियम व अन्य अवशेषों से भरा होता है, जो हमारी स्किन की बाहरी परत कही जाने वाली एपिडर्मिस को नुकसान पहुंचा सकता है। इससे स्किन में जलन व एलर्जी जैसी समस्या हो सकती है। ऐसे में सही फेस क्लींजर का इस्तेमाल करके आप सैंसिटिव स्किन की प्रौब्लम से लड़ कर इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

फेस मास्क :

कोविड-19 वायरस के कारण जहां आज खुद को प्रोटेक्ट करने के लिए मास्क लगाना जरूरी हो गया है, वहीं यह स्किन के लिए भी किसी मुसीबत से कम साबित नहीं हो रहा है

क्योंकि इसके कारण चेहरे के निचले हिस्से में मुंहासों की समस्या हो जाती है, साथ ही सैंसिटिव स्किन वालों को इससे स्किन में जलन, स्किन का लाल पड़ना और यहां तक कि इससे एक्जिमा की समस्या भी हो जाती है। इसके लिए फेस को क्लीन करते रहना बहुत जरूरी है ताकि स्किन को ठंडक मिल सके। बेसिक रूल्स फॉर स्किन सैंसिटिविटी

• स्किन दिन के दौरान पर्यावरण के खिलाफ सुरक्षात्मक भूमिका निभाने के लिए खुद को तैयार करती है। इसके लिए जरूरी है कि आप रातभर की अशुद्धियों को दूर करने के लिए स्किन को जेंटल क्लींजर से क्लीन करें। ठीक इसी तरह

चेहरे से दिनभर की अशुद्धियों को दूर करना बहुत जरूरी है वरना चेहरे पर जमा गंदगी आसानी से स्किन में प्रवेश करके उसे नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए स्किन को डे व नाइट में सैंसीबायो क्लींजर से क्लीन करना न भूलें।

• सैंसिटिव स्किन वालों को इस बात का ध्यान रखना है कि अगर फेस को किसी प्रॉडक्ट से क्लीन करने के बाद फेस पर टाइटनेस फील हो, तो इसका मतलब आप समझ जाएं कि वह प्रॉडक्ट आपकी स्किन के लिए अच्छा नहीं है।

●आप सनस्क्रीन, मेकअप, क्रीम को कभी भी फेस पर ओवरनाइट लगाकर न सोएं।, बल्कि क्लींजर से क्लीन करके स्किन को डिटॉक्स करें।

Heart Health – heart ko healthy kaise rakhe

Richa: