मोरारी बापू

मोरारी बापू जी का जीवन परिचय

मोरारी बापू जी एक ऐसी हस्ती है जिन्होंने आध्यात्मिक जगत को सत्य ,प्रेम और करुणा से हिला के रख दिया। बापू जी श्री राम चरित मानस के कथाकार हैं। बापू जी सभी धर्मो का सम्मान करते हैं। बापू जी की कथा का देशो-विदेशों में भी बहुत प्रभाव है।
बापू जी की कथा हर किसी के जीवन को प्रभावित करती हैं।बापू जी बहुत ही सरल ढंग से कथा करते है।बापू जी के इष्ट श्री राम जी हैं।यह बहुत ही ऊँचे दर्जे के संत है।

मोरारी बापू जी का जन्म

मोरारी बापू का जन्म 2 मार्च 1946 (हिंदू कैलेंडर के अनुसार शिवरात्रि) को गुजरात के महुवा के पास तलगजरदा गाँव में प्रभुदास बापू हरियानी और सावित्री बेन हरियानी के यहाँ हुआ था।

मोरारी बापू जी के गुरु कौन थे ?

वह अपने दादा त्रिभुवनदास हरियानी जी को ही अपना गुरु मानते हैं और उनसे ही उन्होंने रामचरितमानस सीखा हैं।

मोरारी बापू जी के कितने भाई और बहन है ?

छह भाई और दो बहनें हैं।

मोरारी बापू जी का पूरा नाम क्या है ?

मुरारीदास प्रभुदास हरियानी है

मोरारी बापू जी किस धर्म से हैं?

मोरारी बापू जी हिन्दू धर्म से हैं। मोरारी बापू जी सभी धर्मो का सम्मान करते हैं। बापू जी किसी एक धर्म की दूसरे धर्मो के साथ कभी तुलना नहीं करते।

मोरारी बापू जी का गृहनगर कहाँ है ?

बापू जी का तालगरजदा, जिला भावनगर, गुजरात में हैं।

मोरारी बापू जी ने कौन से स्कूल में पढ़ाई की ?

सरकारी हाई स्कूल, तालगरजदा, गुजरात में की है।

मोरारी बापू जी देखने में कैसे दीखते है ?

उनकी लम्बाई (लगभग)-से० मी०- 165, मी०- 1.65, फीट इन्च- 5’ 5” है। उनका वजन/भार (लगभग) 75 कि० ग्रा० है। उनकी आँखों का रंग काला हैं।

मोरारी बापू जी पता क्या हैं ?

श्री चित्रकुटधाम ट्रस्ट, तालगरजदा, महुवा, जिला- भावनगर, गुजरात

मोरारी बापू जी की पत्नी का क्या नाम है?

बापू जी की पत्नी नर्मदाबेन हरियानी है।

मोरारी बापू जी के कितने बच्चे हैं ?

एक बेटा – पृथ्वी हरियाणी और तीन बेटियां – भावना, प्रसन्ना, शोभना

मोरारी बापू जी कौन से वंश से सबंधित हैं ?

वह ‘वैष्णव बावा साधू निंबार्क वंश’ से संबंधित हैं, जिसमें प्रत्येक बच्चे को “बापू” कहकर पुकारा जाता है।

Richa: