अपने घर को कैसे संवारे

घर को कैसे संवारे

घर को कैसे संवारे – आजकल घरों को सजाने के लिए जितनी नई नई चीजों का इस्तेमाल हो रहा है उतना पहले कभी नहीं हुआ। जो ट्रैंड चल रहा है वह बहुत मैचिंग मैचिंग वाला नहीं है। जब आप भी अपने घर को सजाएं तो अलग-अलग चीजों को मिक्सअप करने से न हिचकिचाएं। हमेशा ध्यान रखें कि घर को बहुत अधिक परफैक्ट भी नहीं लगना चाहिए।

घर सजाते समय जरूरी है कि कौन सा ट्रैंड चल रहा है, आप का बजट कितना है, आप को कितने समय में घर तैयार करना है के साथ-साथ इस बात का भी ध्यान रखें कि आप कैसे घर में रहने में सहज महसूस करेंगे। ट्रैंड के साथ-साथ अपनी पसंद का ध्यान भी रखें तभी आप इस में रहने का आनंद उठा पाएंगे।

सिमिट्री का ध्यान रखें

घर को एक सिमिट्री में सजाएं। इस से न केवल आप का घर सुंदर लगेगा, बल्कि आप के डैकोरेटिव पीसेस का आकर्षण भी बढ़ेगा। आप ने कितनी भी सुंदर और कलात्मक चीजें खरीदी हों अगर आप इन्हें व्यविस्थत रूप से नहीं रखेंगे तो ये घर का लुक बढ़ाने के बजाय कम कर देंगी।

सादगी से सजाएं

घर को संवारते समय आप को सादगी में ही सौंदर्य है वाली कहावत को हमेशा याद रखना है। थोड़ा व्यावहारिक बनें, बिना सोचेसमझे खरीदारी न करें। आप बहुत सारी एक्सैसरीज चुन सकते हैं, मूर्तियां, कैंडल होल्डर आर्ट पीसेस आदि। जब भी कोई एंटिक चीज खरीदें, सोच लें कि वह आप के इंटीरियर से मैच खाएगी या नहीं। कमरे में अधिक चीजें न रखें। वैसे भी आजकल सिंपल लुक का प्रचलन अधिक है।

पेंट

कलर थेरैपिस्ट का मानना है कि जो रंग आप घर में इस्तेमाल करते हैं उन का आप की भावनात्मक स्थिति पर गहरा प्रभाव पड़ता है। डल कलर घर को उदास लुक देते हैं। दीवारों पर ब्राइट रंग कराएं। आजकल पिंक और पर्पल के शेड बहुत चल रहे हैं। आप लाइट रंग की थीम भी रख सकते हैं। लेकिन उस में थोड़ी ब्राइटनैस होनी चाहिए। ब्राइट कलर और अच्छी लाइिटंग कमरों में पॉजिटीविटी बढ़ाती है। कमरे की एक दीवार को अपने मनपसंद रंग

में पेंट करें। इसे फोकल पौइंट बनाएं। उस दीवार पर कोई आर्ट पीस लगाएं।

फर्नीचर

वुडन फर्नीचर के लिए वुड पौलिश के बजाय फैब्रिक का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इस का इस्तेमाल पुराने और नए दोनों फर्नीचर में किया जा सकता है। फ्लोरल, प्लेन, ज्योमैट्रिकल पैटर्न जो भी आप को अच्छा लगे आप चुन सकते हैं। कई लोग कैनवास का इस्तेमाल भी करते हैं।

लाइट्स

अगर आप के घर के लैंप पुराने हो

गए हैं तो उन्हें बदल दें, क्योंकि इससे देखने वाले को समझ में आ जाएगा कि आप का घर आऊटडेटेड है। नई डिजाइन के लैंप लगाएं।

लिविंग रूम में हमेशा सौफ्ट लाइट का इस्तेमाल करें जैसे कैंडल्स या वोटिव्स । बैडरूम के लैंप पर लैंप शेड जरूर लगाएं जिस से बैडरूम आकर्षक लगे। अपनी डाइनिंग टेबल के ऊपर शैंडलियर लटकाएं। इस से खाना खाते समय सीधा ग्लेयर नहीं पड़ेगा और यह रमणीय लगेगा।

सीलिंग लाइट के बजाय हैंगिग लाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं। छोटी लाइट्स को मिला कर आप शैंडलर्स बना सकते हैं। आप घर को सजाने के लिए रंगिबरंगी लाइटों का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

किचन

किचन को थोड़ा खुलाखुला रखें। अपनी कटलरी और क्रौकरी को ऐसी अलमारी में रखें जिस के दरवाजों पर कांच लगी हो। किचन में प्राकृतिक प्रकाश आने की व्यवस्था करें, इस से किचन न केवल आकर्षक लगेगा, बल्कि उस में ताजगी भी बनी रहेगी। कटलरी और क्रौकरी को डिस्प्ले करने के लिए आप किचन में अलग से अलमारियां भी बनवा सकते हैं।

शीशे और पेंटिंग्स

हर कमरे में कम से कम एक शीशा लगाएं। शीशों को हमेशा इस तरह लगाएं कि उन में कमरे की किसी सुंदर चीज का प्रतिबिंब दिखाई दे। इस की फ्रेम ऐसी हो जो कमरे के फर्नीचर से मैच खाए। आप छोटीबड़ी आकर्षक पेंटिंग्स से अपने घर की दीवारों को सजा सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि बहुत अधिक संख्या में पेंटिंग्स न लगाएं।

डैकोरेटिव पिलो व कुशन

बैड और सोफा दोनों के लिए कलरफुल कुशन व पिलो का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये बाजार में आसानी से उपलब्ध हैं और आप के कमरे का टैक्सचर और पैटर्न बढ़ाने में योगदान देते हैं।

परदे परदे कमरे को हाईलाइट करते हैं, इसलिए इन का चयन बहुत सोचसमझ कर करना चाहिए। परदे पसंद करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप की दीवारों पर किस रंग का पेंट है, किस कमरे के लिए आप परदे ले रहे हैं, कमरे का फर्नीचर कैसा है आदि। परदे कई पैटर्न और प्रिंट्स में आते हैं जैसे फ्लोरल, प्लेन, ज्योमैट्रिकल आदि । आजकल नैट के परदों का प्रचलन, भी काफी है।

बैडशीट्स

कौटन या लिनेन की बैडशीट इस्तेमाल करें। बैडशीट के साथ मैचिंग पिलो कवर भी लें। बैडरूम की दीवारों से मैच करती हुई या कंट्रास्ट कलर वाली बैडशीट्स खरीदें।

वाल पेपर या फोटो वाल: घर को स्पोर्टी लुक देने के लिए वाल पेपर या फोटो वाल क्रिएट कर सकते हैं। इस से कमरे को नया लुक भी मिलेगा और उस का आकर्षण भी बढ़ेगा। वाल पेपर और कैनवास का इस्तेमाल कर सकते हैं।

फ्लोर

आजकल फ्लोर पर डैकवुड चलन में

है। टाइल्स लगवाने के बाद जगह छोड़ कर डैकवुड लगवा सकते हैं। इस का प्रयोग अधिकतर लिविंग रूम में किया जाता है।

इनडोर प्लांट्स

नैचुरल फील देने के लिए इनडोर प्लांट्स लगाएं। आजकल के घर बहुत बंदबंद होते हैं। प्रदूषण की भी बहुत समस्या है। ऐसे में ये पौधे हवा को साफ रखते हैं और घर में ताजगी का एहसास दिलाते हैं। ये केवल आप के घर का आकर्षण ही नहीं बढ़ाएंगे, बल्कि आप की सेहत भी सही रखेंगे। लेकिन पौधों का चयन करने से पहले इस बात का भी खयाल रखना चाहिए कि ‘कहां कौन सा पौधा लगाएं। स्पाइडर प्लांट, स्नैक प्लांट, फिलोडैंड्रौन, लिली, गरबेरा डेजी, मनीप्लांट और पोथोस से अपने घर को सजाएं।

अगर आप को पौधों के रखरखाव में रुचि नहीं है और आप केवल सुंदरता बढ़ाना चाहते हैं, तो आप कृत्रिम पौधों का चयन कर सकते हैं।

बालकनी

अधिकतर अपार्टमैंट्स में बालकनी होती है लिकन कई लोग अपनी बालकनी को सजाने में रुचि नहीं लेते हैं। आप को अपनी बालकनी को इस प्रकार सजाना चाहिए कि वह न केवल दिखने में सुंदर लगे, बल्कि आप इस का बेहतर तरीके से इस्तेमाल भी कर सकें। बालकनी में ऐंटीक फर्नीचर सब से बेहतर लगता है, इसलिए मौडर्न के बजाय ऐंटीक फर्नीचर का चयन करें। बालकनी की दीवार पर कोई आर्ट पीस लगाएं। बालकनी को न पूरी तरह कवर करें, न ही पूरी खुली रखें।

कौरिडोर

अगर आप का घर काफी बड़ा है और इस में कौरिडोर भी है तो इसे खाली न छोड़ें। यहां की दीवारों पर कोईर् पेंटिंग या फोटो वाल क्रिएट करें। अगर कौरिडोर में जगह ज्यादा है तो इस में 2-3 जगह अलगअलग शोपीस रखे जा सकते हैं।

टैरेस

अगर आप के घर में टैरेस है, तो उसे एक आडिटंग स्पौट का लुक दें। आप यहां एक छोटा सा गार्डन बना सकते हैं, सुंदर लैंप लगा सकते हैं। थोड़ी जगह को कवर कर के वहां फर्नीचर रख सकते हैं। टैरेस पर केन का फर्नीचर काफी आकर्षक लगता है, टैरेस गार्डन के साथ इस का कॉबिनेशन आप की टैरेस को एक अलग ही लुक देगा। अगर आप की टैरेस पर जगह अधिक है तो आप झूला भी लगा सकते हैं।

Richa: